गौशालाओं में बच्चों के जन्मदिन मनाने के लिए अभिभावकों को दें आमंत्रण

Target Tv

Target Tv

गौशालाओं में बच्चों के जन्मदिन मनाने के लिए अभिभावकों को दें आमंत्रण : नोडल अधिकारी हरिकेश चौरसिया

आमजन की सहभागिता बढ़ाने के लिए गौशालाओं में बच्चों के जन्मदिन मनाने के लिए अभिभावकों को आमंत्रित करें तथा को गौ आश्रय स्थलों को आकर्षित रूप में करें विकसित, नोडल अधिकारी हरिकेश चौरसिया द्वारा निरीक्षण के दौरान गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने के भी दिए गए निर्देश

BIJNOR । नोडल अधिकारी, हरिकेश चौरसिया, विशेष सचिव, आयुष विभाग, उत्तर प्रदेश शासन द्वारा जिला बिजनौर भ्रमण कार्यक्रम के तीसरे और अंतिम दिन खंड विकास हल्दौर के ग्राम धर्मपुर में स्थाई को आश्रय स्थल तथा नुमाइश मैदान, बिजनौर स्थित कान्हा गौशालाओं का विस्तृत निरीक्षण किया गया तथा इस अवसर पर उन्होंने गोवंशों को अपने हाथों से गुड़ का सेवन भी कराया।

 

हरिकेश चौरसिया द्वारा ब्लॉक हल्दौर के ग्राम धर्मपुरा स्थित अस्थाई गौशाला स्थल के निरीक्षण के दौरान निर्माणधीन पाया गया कि गौशाला के करीब 8 बीघा जमीन चारे के लिए संरक्षित है, जिसमें नेपियर घास लगी हुई है। इसके अलावा गौशाला के बाहर सड़क किनारे खाली पड़ी जमीन के संबंध में निर्देश दिए कि जमीन को समतल करा कर यहां वाटिका का निर्माण करें ताकि उसमें गोसेवक एवं भ्रमण के लिए आने वाले आगंतुक विश्राम कर सकें। इसके अलावा उन्होंने बाकी रिक्त जमीन पर पिकनिक पॉइंट बनाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि गौशाला के बाहर अपनी सेवाएं प्रदान करने वाले गौ सेवकों के नाम बोर्ड तथा निरीक्षण पंजिका में अंकित कराया जाना सुनिश्चित करें

नोडल अधिकारी चौरसिया ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि गौशालाओं के प्रति आमजन को आकर्षित करने तथा जन सहभागिता बढ़ाने के दृष्टिगत अभिभावकों को अपने बच्चों के जन्मदिन गौशालाओं में मनाने के लिए प्रेरित करें तथा जिन गोभक्तों को गौआश्रय स्थलों में स्वैच्छिक रूप से अपनी सेवाएं प्रदान करने के लिए सूचीबद्ध किया गया है उन्हें भी अभिभावकों को गो आश्रय स्थलों में बच्चों के जन्मदिन आदि मनाने के लिए आमंत्रित करने के लिए निर्देशित करें। उन्होंने कहा कि गौशालाओं में जन्मदिन आदि के आयोजनों से बच्चों में गोवंशों के प्रति प्रेम और सेवा का भाव उत्पन्न होगा और गौशालाएं आमजन के लिए आकर्षण एवं आस्था का केंद्र बनेंगी। उन्होंने पशु विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि उक्त आयोजनों को प्रभावी रूप से संपन्न करने के लिए गौशालाओं की अपेक्षित साफ सफाई, साज-सज्जा और बच्चों की रूचि एवं आकर्षण के लिए अपेक्षित सुविधाओं की व्यवस्था करें।
नोडल अधिकारी चौरसिया ने यह भी निर्देश दिए कि गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने के क्षेत्र में भी समुचित प्रयास करें। उन्होंने कहा कि गौशालाओं में गायों की नर्सरी भी विकसित की जा सकती है और उनके गोबर एवं मूत्र को खाद, गैस एवं अन्य रूपों में परिवर्तित कर आर्थिक लाभ प्राप्त किया जा सकता है।
निरीक्षण के दौरान दोनों गौशालाओं में सीसीटीवी कैमरे संचालित पाए गए तथा साफ़- सफाई, चारा-पानी आदि सभी व्यवस्थाएं सही पाई गई।
निरीक्षण के दौरान मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर मुकेश गुप्ता सहित पशु चिकित्सा विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Target Tv
Author: Target Tv

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स